रमी कैसे खेले | हाउ तो प्ले रमी | How To Play Rummy In Hindi - Khel Play Rummy.com

रमी कैसे खेले - हाउ तो प्ले रमी

रमी बहुत ही पसंदीदा और आसानी से समझने वाला खेल है। रमी खेलने के बहुत सारे तरीके हैं और सारे तरीकों में नियमों के अनुसार कार्ड को एक सेट और क्रम में लगाना होता है।

भारतीय रमी में सभी खिलाड़ियों को दिए गए कार्डों को एक क्रम में (मतलब 3 या 4 बढ़ते सूट कार्ड को) और सेट में (मतलब 3 या 4 कार्ड को समान इकाई लेकिन अलग सूट) में लगाना पड़ता है। खेल में क्रम या सेट को पूरा करने के लिए जोकर या वाइल्ड कार्ड का भी प्रयोग किया जाता है। क्रम को पूरा करने के लिए कार्डों को समान सूट में होना आवश्यक है जबकि सेट को पूरा करने के लिए अलग-अलग सूट का प्रयोग किया जाता है।

खेल को जीतने के लिए कम से कम एक शुद्ध क्रम बनाना पड़ता है जिसमें कि जोकर या वाइल्ड कार्ड का प्रयोग नहीं होना चाहिए। एक शुद्ध क्रम बनाने के बाद खिलाड़ी को एक और क्रम बनाना होता है। खिलाड़ी जोकर या वाइल्ड कार्ड का प्रयोग करके ज्यादा सेट और क्रम बनाने के लिए स्वतंत्र होता है। हरेक खिलाड़ी को कार्डों के गड्डी में से एक कार्ड निकलना होता है और अपने पास के कार्डों में से एक कार्ड को गड्डी में रखना होता है। ये ध्यान रहे की खिलाड़ी अपने उसी कार्ड को निकाले जिसकी उसे सबसे कम ज़रूरत है।
  • खेलप्ले रमी पर 2 कार्ड के पैक के साथ रमी खेला जाता है। हरेक पैक में एक जोकर होना चाहिए।
  • कार्डों के रैंक नीचे से ऊपर की तरफ रहते हैं जैसे - इक्का, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, गुलाम, बेगम और बादशाह।
  • सेट बनाते वक्त इक्के को हमेशा पहले रखा जाता है।
  • इक्के के 10 अंक माने जाते हैं और ये सबसे महत्वपूर्ण कार्ड होता है, उसके बाद महत्त्व के अनुसार क्रमशः गुलाम, बेगम और बादशाह आते हैं।
खेलप्ले रमी, दो पैक कार्ड के साथ खेला जाता है। प्रत्येक पैक में एक जोकर होता है। कार्डों की श्रेणी उसके अंकों के हिसाब से होती हैं: इक्का, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, गुलाम, बेगम और बादशाह (जिसमें 2 सबसे निचली श्रेणी में और राजा सबसे ऊपरी श्रेणी का माना जाता है)।

क्रम या सेट बनाते वक्त इक्के को एक या फेस कार्ड के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। इक्के का मूल्य 10 अंकों जितना होता है और इसके आलावा दुसरे फेस कार्ड जैसे बादशाह, बेगम और गुलाम के भी मूल्य 10 अंकों जितने ही होते हैं।

टेबल का क्या मतलब होता है?

टेबल वह स्थान होता है जहाँ सभी खिलाड़ी रमी खेलने के लिए इकट्ठे होते हैं। साधारणतया एक टेबल पर सिर्फ एक खेल खेला जाता है।
खिलाड़ी को प्रत्येक पारी में एक कार्ड निकालना होता है। 13 कार्डों के साथ खेलते वक्त खिलाड़ी को एक नया कार्ड रखे हुए डेक में से निकालना पड़ता है उसके बाद अपने पास बचे हुए कार्डों में से सबसे कम ज़रूरत वाले कार्ड को डेक में रखना (डिस्कार्ड) होता है। एक कार्ड निकालने के बाद उस खिलाड़ी की पारी समाप्त होती है और उसके बाद दूसरा खिलाड़ी इसी तरीके को दुहराता है।
  • खिलाड़ी अपनी पारी आने पर इच्छानुसार खेल को जारी रख सकता है या फिर खेल को छोड़कर जा सकता है। यदि खिलाड़ी ने अपनी पहली पारी नहीं खेली है और वह खेल को छोड़ना चाहता है तो उसे 101 रमी में 20 अंक और 201 रमी में 25 अंक मिलते हैं। यदि उसने अपनी पहली पारी खेली है और खेल चल ही रहा हो, उस वक्त यदि वह खेल को छोड़ने का निर्णय लेता है तो उसे 101 रमी में 40 अंक और 201 रमी में 50 अंक मिलते हैं। 2 या 3 कार्ड वाले रमी में ये सुविधा खत्म हो गई है और खिलाड़ी को इस खेल को छोड़ने पर अंक नहीं मिलते हैं।
  • खिलाड़ी जब किसी खेल या पारी को छोड़ता है तब उस खिलाड़ी के सारे कार्ड रखे हुए डेक के कार्डों के साथ मिल जाते हैं। ये कार्ड बाकी बचे हुए खिलाड़ियों के लिए उपलब्ध रहते हैं।
  • टेबल पर जब 2 से अधिक खिलाड़ी खेल रहे हों और यदि उनमें से एक खिलाड़ी खेल को छोड़ना चाहे तो खेल के बाकी बचे हुए खिलाड़ियों (कम से कम 2) के साथ खेल चलता रहेगा। जो खिलाड़ी बीच में ही खेल के राउंड को छोड़ कर चले गए थे वह भी आखिरी वक्त तक खेलते रहेंगे जबतक की खेल अधिकतम अंक तक ना पहुँच जाए। ध्यान रहे की “ड्रॉप बटन” (खेल को बीच में छोड़ने के लिए) पुरे खेल के दौरान सक्रिय रहता है ताकि अपनी पारी आने पर खिलाड़ी उसे दबा सके लेकिन ये सुविधा उन खिलाड़ियों के लिए नहीं है जो खेल के बीच में “शो” कर चुके हैं।

101 पूल रमी

  • खेल छोड़ने पर दिए जाने वाले अंक (पहली पारी) : 20 अंक
  • खेल के बीच में खेल को छोड़ने पर : 40 अंक

201 पूल रमी

  • खेल छोड़ने पर दिए जाने वाले अंक (पहली पारी) : 25 अंक
  • खेल के बीच में खेल को छोड़ने पर : 50 अंक
लगभग रमी के सारे खेल, 2 जोकर कार्ड के साथ खेले जाते हैं। इसके अतिरिक्त, सभी खिलाड़ियों में कार्ड बाँटने के बाद, एक कार्ड डेक में से खुद से एक कार्ड चुना जाता है जो की जोकर या वाइल्ड कार्ड कहलाता है। किसी भी सूट का कोई कार्ड जो की जोकर के बराबर महत्व रखता है वह उस खेल का जोकर कहलाता है। खिलाड़ी जोकर कार्ड का प्रयोग सेट या क्रम बनाने में कर सकता है लेकिन खिलाड़ी को एक शुद्ध क्रम बनाना आवश्यक है।
रमी खेलते वक्त जब जोकर डेक जोकर होता है, तब सारे इक्कों को जोकर माना जाता है।
अगर आप रमी खेलना चाहते हैं तो आपको ये बातें जानना बेहद ज़रूरी है। खेलते वक़्त खिलाड़ी को एक सूट में कार्डों के द्वारा एक क्रम बनाना पडता है; और यह बिना किसी जोकर या वाइल्ड कार्ड के होना चाहिए। यह क्रम नेचुरल या शुद्ध क्रम कहलाता है। इसे वास्तविक क्रम भी कहते हैं। जब खिलाड़ी कार्ड शो करता है तो उसके पास एक पूरा शुद्ध क्रम होना चाहिए अन्यथा यह मान्य नहीं होगा और खिलाड़ी के अंक बढ़ जाते हैं।
रमी में कम से कम 2 क्रम बनाने होते हैं।

निम्नलिखित इसे उदाहरण द्वारा स्पष्ट किया गया है:

1. शुद्ध क्रम 1: खेल को जितने के लिए एक ही सूट के 3 या 4 बढ़ते क्रम में कार्ड होने चाहिए। यह क्रम बिना किसी वाइल्ड कार्ड या जोकर के बनना चाहिए।
यहाँ एक उदाहरण दिया जा रहा है, जिससे की आप जान पाएंगे की एक शुद्ध क्रम कैसे बनाते हैं :

rummy life correct form

2. शुद्ध क्रम 2 : इस क्रम को भी एक ही सूट के 3 या 4 बढ़ते क्रम के कार्डों द्वारा ही बनाया जाता है। मगर इसमें क्रम बनाने के लिए वास्तविक कार्ड से जोकर या वाइल्ड कार्ड को बदला जा सकता है। नीचे दिए गए उदहारण में आप इसे समझ पायेंगे :

नोट : अगर वाइल्ड कार्ड या जोकर को खेल के शुरुआत में क्रम बनाने के लिए चुना जाता है, तो इसे शुद्ध क्रम बनाने में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

life in rummy card game

सेट 1 और सेट 2 : जब खिलाड़ी पहला और दूसरा क्रम बना लेता है तब उसे बचे हुए कार्डों से 3 या 4 कार्डों के सेट या क्रम बनाने होते हैं। इसमें जोकर या वाइल्ड कार्ड का प्रयोग बखूबी कर सकते हैं। यहाँ सेट और क्रम के कुछ उदहरण हैं:

life in rummy game

यहाँ सेट या क्रम बनाने के लिए, किसी भी जोकर या वाइल्ड कार्ड को किसी भी अंक के कार्ड के बदले इस्तेमाल कर सकते हैं।

रमी कैसे खेलें? (याद रखने योग्य बातें)

जो खिलाड़ी 3 या 4 के वैध समूह को पहले बना लेता है वह उस खेल या पारी का विजेता कहलाता है।

पहले क्रम को बनाने के बाद, खिलाड़ी जोकर या वाइल्ड का प्रयोग करने के लिए स्वतंत्र होता है। वे बाकी के बचे हुए क्रम या सेट को जोकर का प्रयोग करके बना सकते हैं जिसमें दूसरा क्रम भी सम्मिलित है।

2 पैक कार्डों के ख़त्म होने तक, खिलाड़ी को एक ही वर्ग के कार्ड/सूट/रंग का प्रयोग करके एक से ज्यादा सेट या क्रम बनाने की अनुमति होती है।
ग्रुप ऑप्शन के ज़रिये खिलाड़ी कार्डों का ग्रुप बनाता है ताकि खेल को व्यवस्थित तरीके से खेला जा सके। खेलप्ले रमी में खिलाड़ी ग्रुप बटन के ज़रिये एक या उससे अधिक ग्रुप बना सकता है। कार्ड चुनने के बाद सभी खिलाड़ी को कार्डों का ग्रुप बनाने के लिए ग्रुप बटन दबाना पड़ता है। खिलाड़ी एक बार में 4 से ज़्यादा ग्रुप नहीं बना सकता है।

खिलाड़ी को सभी कार्डों को एक क्रम में लगाने के बाद उन्हें दिखाना (शो) करना पड़ता है ताकि वह विजेता घोषित हो सके। लेकिन खिलाड़ी अपनी पारी आने पर ही शो कर सकते हैं। आखिरी कार्ड लेकर, एक वैध क्रम या सेट बनाने के बाद खिलाड़ी को दूसरा कार्ड टेबल पर रखने के बजाए शो करना होता है। यदि कार्ड, ग्रुप में सही क्रम और सेट के साथ दिखाया जाता है तो खिलाड़ी को जीता हुआ माना जाता है।

खेलप्ले रमी के टेबल पर, शो करते वक्त खिलाड़ी को एक कार्ड चुन कर “फिनिश टैब” दबाना होता है या फिर कार्ड को उठाकर “शो” पर ले जाकर भी रखा जा सकता है।

यदि खिलाड़ी के शो करने पर सेट और क्रम सही नहीं पाए जाते हैं तो उनसे गलत चाल के 80 अंक दिए जाते हैं। जब कोई खिलाड़ी शो करता है तो उसके बाद टेबल के सारे खिलाड़ियों को अपने कार्ड दिखाने पड़ते हैं।

अन्य हारे हुए खिलाड़ियों के अंक उनके बचे हुए कार्ड (जो की सही क्रम या सेट में नहीं होते हैं) के द्वारा जोड़ी जाती है। इनमें कुछ अपवाद हैं जो की नीचे आपको बताया गया है:

  • यदि हारे हुए खिलाड़ी के पास एक भी शुद्ध क्रम नहीं होता है तो उसके सारे कार्डों के अंक जोड़ लिए जाते हैं।
  • यदि हारा हुआ खिलाड़ी दो क्रम बनाने में असमर्थ हैं परन्तु उसके पास एक शुद्ध क्रम है तो सिर्फ शुद्ध क्रम के अंक नहीं जोड़े जायेंगे।
  • खेल में हारा हुआ खिलाड़ी 80 से ज्यादा अंक नहीं पा सकता है। उदहारण के तौर पर यदि कार्डों के कुल 90 अंक आते हैं तो खिलाड़ी को सिर्फ 80 अंक ही मिलेंगे।
  • यदि हारे हुए खिलाड़ी ने सभी क्रम या सेट सही बनाये और एक वैध शो करने से पहले ही शो डिक्लेअर हो गया तब उसे 2 अंक मिलेंगे।


नोट: प्रत्येक खिलाड़ी को सिर्फ एक ही बार पंजीकरण की अनुमति है।

“राउंड” टेबल पर कार्डों के वितरण के साथ शुरू होता है और विजेता खिलाड़ी पर जाकर समाप्त होता है (जो की आखिर में एक वैध “शो” की घोषणा करता है)।
रमी खेलने के लिए इकट्ठे हुए खिलाड़ियों के बीच कार्ड बाँटने की प्रक्रिया को “डीलिंग” कहते हैं।
  • 101 और 201 रमी के खेल में खिलाड़ी हार जाता है अगर उसके अंक 101 और 201 अंक से ज़्यादा हो। खिलाड़ी के पास रि-बाई (दुबारा खरीद) का विकल्प होता है अगर दुसरे सभी खिलाड़ियों के पास क्रमशः 79 और 174 अंक से ज्यादा ना हो।
  • रमी के खेलों बेस्ट ऑफ़ 2, बेस्ट ऑफ़ 3 और बेस्ट ऑफ़ 6 में री-बाई का विकल्प नहीं दिया जाता है।
  • जब रमी टेबल पर दो से ज्यादा खिलाड़ी खेल रहे हों तभी हम री-बाई का विकल्प प्रयोग कर सकते हैं।
खिलाड़ी “बाई-इन” करके खेल में री-बाई द्वारा दुबारा वापसी कर सकता है यदि टेबल पर 174 से ज्यादा अंक 201 वाले खेल में और 79 से ज्यादा अंक 101 वाले खेल में किसी और खिलाड़ी के पास ना हों।
री-बाई करने पर हर बार खिलाड़ी के खाते से बाई-इन के बराबर रकम काट ली जाती है।

उस वक्त खेल का “डिसकनेक्ट” हो जाना जब आप जीत रहे हों, सबसे बड़ी समस्या बन सकती है। खेलप्ले रमी टीम आपके मेहनत की कद्र करती है और दिए हुए समय की कीमत समझती है। इसलिए ये “ऑटो प्ले” का विकल्प आपको उपलब्ध कराती है ताकि खेल अविरोध चलता रहे। निम्नलिखित स्तिथियों में आप ऑटो प्ले का उपयोग कर सकते हैं।

  • निष्क्रिय खिलाड़ी
    • यदि खिलाड़ी पहले 45 सेकंड के दौरान खेल शुरू नहीं करता है तो उसे 15 सेकंड और दिए जायेंगे। लेकिन अगर फिर भी खिलाड़ी खेल शुरू नहीं कर पाया तो उसके कार्ड आपने आप ही “ड्रॉप” हो जायेंगे और वह खेल के प्रकार के अनुसार 20 या 25 अंक उस मिल जायेंगे।
    • यदि खिलाड़ी अपनी पहली ही पारी में निष्क्रिय हो जाता है तो ऑटो प्ले का विकल्प सक्रिय हो जायेगा और सिस्टम खिलाड़ी की ओर से 20 पारी तक खेलेगा।
    • यदि खिलाड़ी ने निष्क्रिय होने से पहले क्रम या संख्या बनाई हो तो उसका आखिरी बनाया हुआ ग्रुप, “मेल्ड” होने के दौरान दिखाया जायेगा।
    • यदि खिलाड़ी ने कोई क्रम नहीं बनाया है तो उसे उसके कार्डों के बराबर अंक मिल जायेंगे। खिलाड़ी को अधिकतम 80 अंक मिलते हैं।
  • खिलाड़ी का डिसकनेक्ट होना
    • यदि खिलाड़ी अपनी पहली ही पारी में कार्ड निकलने के पहले ही डिसकनेक्ट हो जाता है तो उसे उपलब्ध 45 सेकंड के आलावा और 45 सेकंड दिए जायेंगे। पर तब भी खिलाड़ी अगर खेल को शुरू नहीं कर पाता है तब सारे कार्ड ऑटो-ड्रॉप (खुद-ब-खुद ड्रॉप) हो जायेंगे। उसके बाद खिलाड़ी को खेल के हिसाब से 20 या 25 अंक मिलेंगे।
    • खेल के बीच में कभी भी खिलाड़ी यदि डिसकनेक्ट हो जाये तो उसे 45 सेकंड का वक्त मिलता है अपनी चाल चलने के लिए। फिर भी अगर वह दिए गए समय में चाल नहीं चल पाता है तो खेल ऑटो-प्ले पर चला जाता है और सिस्टम खिलाड़ी के तरफ से खेलने लगता है।
    • यदि खिलाड़ी ने डिसकनेक्ट होने से पहले क्रम या संख्या बनाई हो तो उसका आखिरी बनाया हुआ ग्रुप, “मेल्ड” होने के दौरान दिखाया जायेगा।
    • यदि खिलाड़ी ने कोई क्रम नहीं बनाया है तो उसे उसके कार्डों के बराबर अंक मिल जायेंगे। खिलाड़ी को अधिकतम 80 अंक मिलते हैं।


जब भी खिलाड़ी खेल या पारी के दौरान निष्क्रिय या डिसकनेक्ट होता है तो खेल ऑटो-प्ले (स्वचालित खेल) में चला जाता है। अर्थात कभी किसी कारणवश यदि खेल बीच में छुटा तब यह विकल्प (ऑटो-प्ले) आपको सुरक्षित रखता है, आपको इन्टरनेट के कनेक्शन के बारे में चिंता नहीं करनी पड़ती है।

ऑटो-प्ले के दौरान सिस्टम, पारी आने पर जिस कार्ड को उठाती है दुबारा उसी को रखता है। ताकि जब खिलाड़ी दुबारा सक्रीय या कनेक्ट हो तब वह अपने उन्ही कार्डों से खेल सके जो कार्ड उसके निष्क्रिय या डिसकनेक्ट होने वक्त थें।

खिलाड़ी के वापस आने पर उसे रीकनेक्ट बटन दबाना होता है ताकि वह टेबल के दुसरे खिलाड़ियों के साथ खेल में शामिल हो सके।

  • टॉस ये निश्चित करता है कि कौन खिलाड़ी पहली पारी खेलेगा। सारे खिलाड़ियों को सिस्टम द्वारा एक पैक में से रैंडम ओपन कार्ड दिए जाते हैं, और जो सबसे ज्यादा मूल्य वाले कार्ड पाता है उसे टॉस जीता हुआ माना जाता है। उसे पहली पारी खेलने का मौका मिलता है। वहीं जिस खिलाड़ी को सबसे कम मूल्य का कार्ड मिलता है उसे सबसे आखिरी पारी मिलती है। टॉस में जोकर को सबसे ज्यादा मूल्यवान कार्ड समझा जाता है।
  • यदि दो खिलाड़ियों को एक ही मूल्य के कार्ड मिलते हैं तब उनकी पारी उनके सूट के हिसाब से तय की जाएगी। उनके क्रम इस प्रकार होंगे : स्पेड (हुकुम), डायमंड (इंट), क्लब (चिड़ी) और हार्ट (पान)।
  • टॉस सिस्टम द्वारा स्वचालित होता है। यह सिर्फ एक बार पूल रमी में ही किया जाता है। टॉस के बाद, कोई भी खिलाड़ी खेल को बीच में नहीं छोड़ सकता है। अगर किसी खिलाड़ी ने खेल को बीच में छोड़ा तो उसके खाते में से बाई-इन की रकम कट जायेगी।
  • कार्डों का वितरण आखिर से दूसरे पारी वाले खिलाड़ी द्वारा किया जाता है। प्रत्येक खिलाड़ी को एक-एक करके कार्ड वितरित किया जाता है।
  • दुसरे राउंड के डीलर के पास सबसे अधिक अंक का कार्ड होता है।
  • ऑनलाइन रमी में 53 कार्ड के 2 डेक का प्रयोग होता है, प्रत्येक डेक में एक प्रिंटेड जोकर होता है।
  • टॉस खेल के शुरू होने के वक्त किया जाता है ताकि खिलाड़ियों की पारी तय कि जा सके।
  • टेबल के सभी खिलाड़ियों को 13 कार्ड दिए जाते हैं। सिस्टम इसके लिए “लाइसेंस्ड रैंडम नंबर ओरिजीनेटर अल्गोरिदम” का प्रयोग करता है।
  • हर रमी खेल में डेक से एक कार्ड जोकर के रूप में निकाला जाता है। संयोग से अगर निकाला हुआ कार्ड प्रिंटेड जोकर हुआ तब उस सूट के सभी इक्के उस खेल में जोकर कार्ड माने जाते हैं।
  • इसके ठीक बाद के कार्ड को फेस-अप डेक में रखे जाते हैं जिसका मतलब खेल की शुरुआत होती है।
  • खिलाड़ी अपनी पारी में अपने इच्छानुसार फेस-डाउन डेक या ओपन फेस डेक में से कार्ड निकाल सकता है।
  • निर्धारित समय में अपनी पारी को चलना होता है।
  • डिस्कार्ड टैब : खेलते वक्त खिलाड़ियों द्वारा हटाये गए सभी कार्ड (डिस्कार्ड कार्ड ) इस टैब में दिखते हैं। जो कार्ड “डिस्कार्ड टैब” से लिए जाते हैं उनपर “स्टार मार्क” होता है।
  • हिस्ट्री टैब : इस टैब में राउंड में पहली बार खेले गए कार्ड (फर्स्ट हैण्ड कार्ड) का इतिहास होता है।
  • जोकर को फेस-अप डेक में से नहीं चुना जा सकता है। लेकिन अगर पहला खिलाड़ी अपनी पहली पारी खेल रहा हो और उक्त कार्ड, फेस-अप डेक का पहला कार्ड हो तो आप ऐसा कर सकते हैं।
  • अगर सारे खिलाड़ी निकाले हुए डेक (डिस्कार्डेड डेक) में से सारे कार्डों का प्रयोग लेता है तब फेस-अप के सारे कार्ड बंद या निकाले हुए डेक में जमा हो जाते हैं। लेकिन खुले हुए डेक का पहला फेस-अप कार्ड निकाले हुए डेक (डिस्कार्डेड डेक) में नहीं जाता है।

Scroll To Top